pdf BP 17-1-3-06 BVVGM G patrika 27 Varsh

47 downloads

'उडु' अर्थात् नक्षत्र एवं 'प'अर्थात पति, अतः उडुप अर्थात् नक्षत्रपति चन्द्र। चन्द्रकी तपस्यासे प्रसन्न रुद्र-देवताके अधिष्ठान-क्षेत्र के रूप में यह स्थान 'उडुपी' नाम से प्रसिद्ध है।

वर्ष—१७ • संख्या—१-३ • प्रबन्ध क्रमांक—६
श्रीगौड़ीय-पत्रिकाका सत्ताइसवाँ वर्ष
श्रील भक्तिवेदान्त वामन गोस्वामी महाराज वाणी-वैभव

image
image
image
image