pdf Sri Sri Bhagavat Patrika Yr 17 Issue1-4

162 downloads

श्रीश्रीभागवत-पत्रिका वर्ष-१७ संख्या १-४
विषय-सूची

श्रीजगन्नाथाष्टम्.......................२
श्रीगौरचंद्र मुखकमल- नि:सृत

सहनशीलता और श्रीभक्तिविनोद..........५
अमानित्व और श्रीभक्तिविनोद............६
मानदत्व और श्रीभक्तिविनोद.............७

श्रीगुरुतत्व और श्रील प्रभुपाद............८

श्रीमन्महाप्रभुकी कथाओंका प्रचार ही वास्तव वदान्यता तथा जीवों के प्रति दया है...........१२
- श्रील भक्तिप्रज्ञान केशव गोस्वामी महाराज

श्रीगौड़ीय-पत्रिकाका सत्ताईसवाँ वर्ष............१४
श्रील भक्तिवेदांत वामन गोस्वामी महाराज

हमारा एक परम-बान्धव अवश्य होना चाहिए......१७
हरिकथाके श्रवणमात्रसे ही भक्तिराज्यमें सबकुछ प्राप्त होगा...........१९
तुम्हारा जीवन भार न होकर सर्वप्रकारसे सुखमय एवं सार्थक हो...............२४
- ॐ विष्णुपाद श्रीश्रीमद्भक्तिवेन्दात नारायण गोस्वामी महाराजके वचनामृत

 

श्रील गुरुदेवकी आविर्भाव-शतवार्षिकीके उपलक्ष्यपर सारस्वत-गौड़ीय-वैष्णव एवं चरणाश्रितजन प्रदत पुष्पाञ्जलि....२७

-श्रील गुरुदेव-स्मरण-मङ्गल-कणिकाएँ.........४८

 

वैष्णव-विरह-संवाद ...... ५०
- श्रीमद्भक्तिवेदान्त तीर्थ महाराजके जीवनचरित्र एवं गुण- महिमाका किञ्चित स्मरण...५४
- श्रीपाद कृष्णदास प्रभुकी स्मृतिमें...७४

image
image
image
image